Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

30.12.07

नववर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाये

नए बरस में नए हों सपने और नया हो प्यार, नयी उमंग संग हो जाये खुशियों की बौछार
भड़ास के सभी पाठकों को नववर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाये
प्रशान्त जैन, नवभारत टाइंमस

1 comment:

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' said...

नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामना