Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

27.1.08

चलो कुछ karen

हम लोग भासन तो खूब पेल रहे हैं लेकिन कुछ ऐसा नहीं कर रहे जिससे समाज में कोई फर्क पड़े.क्या कुछ ऐसा नही हो सकता कि हम लोग कोई मुहिम चलायें। मसलन ओर्गंस डोनेशन के लिए । इस दिशा में प्रेस को अभियान चलाना चाहिऐ ही, हम मीडिया के लोग कुछ ठोस पहल करें. सोचो दोस्तो

1 comment:

डा०रूपेश श्रीवास्तव said...
This comment has been removed by the author.