Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

31.3.08

राखी सावंत बनीं इस बार की पहली अप्रैल फूल


इस अप्रैल की पहली ब्रेकिंग न्यूज। राखी सावंत को निर्देशक राकेश रोशन ने इस बार के अप्रैल का पहला फूल बना डाला। ठीक पहली अप्रैल से एक दिन पहले राकेश रोशन ने राखी को चौंकाते हुए अपनी अगली फिल्म क्रेजी फोर से राखी का तेजी से पापूलर हो रहा आइटम सांग देखता है क्या हटा दिया। अब राखी देश की मीडिया के सामने अपना रोना रो रही हैं। साथ ही हमारी हाईटेक मीडिया को एक और मसाला मिल गया है। अब देखिए यह कहां कहां लगाया जाता है। लेकिन यह बात तो तय हो गई कि राकेश रोशन उडती चिडिया के पर कतरना बाखूबी जानते हैं। वह भी मौका और दस्तूर देखकर। आखिर वह पुराने खिलाडी जो ठहरे।

7 comments:

अनिल भारद्वाज, लुधियाना said...

यह तो होना ही था। बेटे का आइटम सांग जो हिट कराना था। सही है

धर्मेन्द्र चौहान said...

bahut sahi bat kahi abrar bhi apne ese hi khabre dete raheye lage rahyega.............

धर्मेन्द्र चौहान said...

bahut sahi bat kahi abrar bhi apne ese hi khabre dete raheye lage rahyega.............

डा०रूपेश श्रीवास्तव said...

अच्छा हुआ जो राखी सावंत का फोटू देखने को मिल गया वरना हम ससुर आज तक यही सोचते थे कि ये शायद मजदूरों के नेता स्व.दत्ता सावंत की माताजी हैं....

आलोक सिंह रघुंवंशी said...

बेचारी राखी। चिंता न करो, जब मैं फिल्म बनाउंगा तो तुम्हें आइटम ही नहीं मेन रोल में रखूंगा।

रजनीश के झा said...

अरे भाई ये टू होना ही था वैसी भी बोलिवूड मैं अच्छे और सचे लोगों के साथ हमेशा ही से ऐसा हुआ है मेरी टू सहानुभूति रखी बहन के साथ है

KAMLABHANDARI said...

meri samaj me nahi aataa ki rakhi sawant ka naam aate hi sab utsuk kyu ho jaate hai ,ek jara si bhi baat agar wo rakhi ke baare me hai to wo til ka taar kyu ban jaati hai ya banaa diya jaataa hai . hum uske aaj ko dekh rahe hai par ya nahi jaante ki wo bechari kitni muskil se ,sangarsh ke baad yaha tak pahunchi hai