Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

14.8.08

एक है ससुरा विजय शर्मा

ब्लोगर मित्रों।
आज कल सारे ब्लॉग जगत के लोग एक मेल से परेशान हैं और उस मेल की सुरुआत जिसने भी करी हो मगर इतने सारे ई मेल आई डीजमा कर के एक चेन्नई के ब्लोगर ने ब्लॉग जगत में कोहराम मचा दिया है, सारे ब्लोगर रोज बीसों इस मेल के आने से परेशान हैं हम भी हैं, मगर परेशान कोई नही है तो ऊ ससुरा विजय शर्मा। विजय जी को बहुत बहुत धन्यवाद की उन्होंने मेल का सदुपयोग करना ब्लोगरों को सीखा दिया और अब बाकी के ढेरक ब्लोगर इस मेल लिस्ट के सहारे अपने ब्लॉग को आम करने की जुगत में हैं।
एक बात और जो मैं कहना चाहूँगा की या तो ये सारे लोग जान बूझ कर परेशान करने वाली हरकतों को अंजाम दे रहे हैं या फ़िर वो ही पुरानी कहावत हिन्दी के अनपढ़ लोग हैं (कम्पूटर के मामले में ) क्योँ की तमाम लोगों की हरकत से पुरा ब्लॉग जगत परेशान है।
गुजारिश लोगों से की ये मेल की खिचडी पकाना बंद करें और हिन्दी ब्लोगिंग को लोगों पर जबरदस्ती न थोपें। संग ही लानत मलानत विजय शर्मा को और उसके जैसे तमाम जाहिल निकम्मे मेल के रिप्लाय करने वालों को।
जय जय भड़ास
जय जय भड़ास

2 comments:

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

भाई, का जौन ई आपके हालिया ससुर जी विजय (बे)शर्मा हैं इनके पास हमरा मेल आई.डी.नहीं है? या फ़िन हमसे नाराज-साराज हैं...???

Vajay said...

Bhaiji,
aapka mail ID bhej dijiye aapko bhi hum mail karenge aur daily karenge ye wada raha.
Vijay Sharma,
Chennai
09281302261