Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

19.12.09

---- चुटकी----

बीजेपी
में
बदलाव
ऐसे,
सर्दी
में
अलाव
जैसे।

1 comment:

KAVITA RAWAT said...

Or alav kab tak jalta rahega....
pata nahi.......