Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

26.6.10

मुनव्वर राणा की एक गजल

बात -बेबात  पर  

1 comment:

Anonymous said...

badiya hai ji