Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

21.12.10

यह प्यार तेरा

यह प्यार तेरा बना राहवर है ;
ये कैसा नशा है तुझे क्या खबर है ।
अगर हो जरूरत तो कतरे से दिल के
मैं लिख डालूँगा वो ग़ज़ल जो तू चाहे ;
अगर रौशनी हो तो मैं मानता हूँ
जला तो हूँ मैं पर ये तेरा असर है ।
यह प्यार तेरा बना राहवर है ;
ये कैसा नशा है तुझे क्या खबर है ।

5 comments:

Harman said...

very nice..

mere blog par bhi kabhi aaiye waqt nikal kar..
Lyrics Mantra

Dr Om Prakash Pandey said...

Dhanyawaad!

shalini kaushik said...

ye kaisa nasha hai ,tujhe kya khabar hai panktiyan kavita ki chhap chhod gayee.bahut sundar...

sangeeta modi shamaa said...

man ko chhu gai

Dr Om Prakash Pandey said...

Shalini ji aur Sangeetaji, aap donon ko bahut bahut dhanyawaad!