Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

20.3.11

नेता जी की होली !

नेता जी की होली !
     
तन के गोरे मन के काले
हम होली खूब मनायेगें,
घोटालो की पिचकारी से
जनता को नहलायेंगें ,
करी खिलाफत हमरी 
तो  फिर  धमकी रंग लगायेंगे  ,
हैं  चुनाव  अब  पास  तो  
वादा  गुझिया भी खिलवायेंगे . 

[नेता जी की ओर से जनता को होली की हार्दिक शुभकामनायें ]
                                             शिखा कौशिक
http://netajikyakahtehain.blogspot.com/

3 comments:

राजकुमार ग्वालानी said...

रंगों की चलाई है हमने पिचकारी
रहे ने कोई झोली खाली
हमने हर झोली रंगने की
आज है कसम खाली

होली की रंग भरी शुभकामनाएँ

शालिनी कौशिक said...

Happy Holi
May this festival brings many happiness in your life
Reagards

डा.मनोज रस्तोगी, मुरादाबाद said...

नेता जी की तो हो ली
अब जनता नेता जी के रंग से परेशान है ।
rastogi.jagranjunction.com