Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

19.2.17

‘समाज का आज’ किताब के लेखों में कोई भी पीड़ा सघन रूप से अभिव्यक्त नहीं हो पाई है

जयपुर : पीस फाउण्डेशन के तत्वावधान में आज मानसरोवर स्थित उनके संगोष्ठी कक्ष में डॉ दुर्गाप्रसाद अग्रवाल की नव प्रकाशित पुस्तक 'समाज का आज' पर चर्चा गोष्ठी आयोजित की गई. प्रारम्भ में फाउण्डेशन के अध्यक्ष प्रो. नरेश दाधीच ने पुष्प गुच्छ देकर लेखक का स्वागत किया  और फिर कृतिकार डॉ अग्रवाल ने अपनी पुस्तक के बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मूलत: एक अपराह्न दैनिक के स्तम्भ के रूप में लिखे गए ये आलेख समकालीन देशी-विदेशी समाज की एक छवि प्रस्तुत करते हैं. डॉ अग्रवाल ने कहा कि ये लेख विधाओं की सीमाओं के परे जाते हैं और बहुत सहज अंदाज़ में हमारे समय के महत्वपूर्ण सवालों से रू-ब-रू कराने  का प्रयास करते हैं.

डीएस कालेज धांधली प्रकरण में कमिश्नर ने दिए जाँच के आदेश

अलीगढ | डीएस कालेज प्रवेश प्रक्रिया में हुई धांधली का मामला कमिश्नर तक पहुँच गया है| कमिश्नर ने छात्र नेता जियाउर्रहमान की शिकायत पर एडीएम सिटी को जांच कर कार्यवाही के आदेश दिए हैं| छात्र नेता जियाउर्रहमान ने शुक्रवार को कमिश्नर सुभाष चन्द्र शर्मा से मिलकर कालेज में व्याप्त धांधली और भ्रष्टाचार की शिकायत की| छात्र नेता ने प्राचार्या की शिकायत करते हुए प्रवेश प्रक्रिया को अवैध वसूली का जरिया बनाने का आरोप लगाया|

हिंदुस्तान रांची ते दो पत्रकारों का जबरन किया गया तबादला, पढ़ें लेटर



रामकृष्ण परमहंस जयन्ती 18 फरवरी : सिद्धि, साधना और संस्कृति के शिखरसंत

- ललित गर्ग-
आज के विश्व में भारत के अध्यात्म की एक अनूठी भूमिका है। क्योंकि भारत का सौभाग्य है कि यहां की रत्नगर्भा माटी में आध्यात्मिक महापुरुषों को पैदा करने की शोहरत प्राप्त है। जिन्होंने अपने व्यक्तित्व और कर्तृत्व से न सिर्फ स्वयं को प्रतिष्ठित किया वरन् उनके अवतरण से समग्र विश्व मानवता धन्य हुई है। इसी संतपुरुषों, गुरुओं एवं महामनीषियों की शृृंखला में एक महापुरुष हैं रामकृष्ण परमहंस। यहां का जन-जन उनकी परमहंसी साधना का साक्षी है, उनकी गहन तपस्या के परमाणुओं से अभिषिक्त है यहां की माटी और धन्य है यहां की हवाएं जो इस भक्ति और साधना के शिखरपुरुष के योग से आप्लावित है। संसार के पूर्णत्व को जो प्राप्त हैं, उन इने-गिने व्यक्तियों में वे एक थे। उनका जीवन ज्ञानयोग, कर्मयोग एवं भक्तियोग का समन्वय था। वे एक महान संत, शक्ति साधक तथा समाज सुधारक थे। इन्होंने अपना सारा जीवन निःस्वार्थ मानव सेवा के लिये व्यतीत किया, इनके विचारों का न केवल बंगाल के बल्कि सम्पूर्ण राष्ट्र के बुद्धिजीवियों पर गहरा सकारात्मक असर पड़ा तथा वे सभी इन्हीं की राह पर चल पड़े। उन्होंने भाग्य की रेखाएं स्वयं निर्मित करने की जागृत प्रेरणा दी। स्वयं की अनन्त शक्तियों पर भरोसा और आस्था जागृत की। अध्यात्म और संस्कृति के वे प्रतीकपुरुष हैं। जिन्होंने एक नया जीवन-दर्शन दिया, जीने की कला सिखलाई।



17.2.17

भारत में हिंदुओं की आबादी वाकई कम हो रही है

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू हिन्‍दू आबादी कम होने संबंधी एक ट्वीट क्‍या कर दिया, स्‍वयं को सेक्‍युलर कहने वालों की भीड़ एक साथ उनको कठघरे में खड़ा करने में लग गई । उसमें भी आश्‍चर्य तब अधिक हुआ, जब एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन औवेसी जैसे घोर सान्‍प्रदायिक यह कहते हैं कि रिजिजू देश के मंत्री हैं हिंदुओं के नहीं, इसलिए उन्हें ऐसे बयान नहीं देने चाहिए। वस्‍तुत: सच तो यही है कि वे देश के मंत्री हैं इसलिए उन्‍हें सदैव सत्‍य बोलना चाहिए जो उन्‍होंने इस ट्वीट में बोला भी है ।

मोदी के दो अनमोल पत्रकार रतन : एक बलात्कार का आरोपी, दूसरा सौ करोड़ उगाही का आरोपी


रवीश कुमार बनाम राहुल कंवल


खनन में मौतों के लिए राजनैतिक माफिया जिम्मेदार

वीआईपी लूट के राजनैतिक माफियाओं को जनता सजा दे - स्वराज अभियान

ओबरा-सोनभद्र । खनन में लगातार जारी मौतों के लिए राजनैतिक माफिया जिम्मेदार हैं।ओबरा क्षेत्र में वीआईपी लूट के राजनैतिक माफिया अवैध खनन कर लोगों की जिन्दगी को दांव पर लगाकर भारी लूट को अंजाम दे रहे हैं। उक्त बातें स्वराज अभियान के जयकिसान आन्दोलन के राष्ट्रीय सहसंयोजक अजीत सिंह यादव ने आज जारी बयान में कहीं।उन्होंने कहा कि स्वराज अभियान व आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट (आइपीएफ) वीआईपी लूट के इन राजनैतिक माफियाओं को सजा दिलाने के लिए अभियान तेज करेंगे ।उन्होंने बताया कि हमारी पहल पर ही इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खनन की सी0बी0आई0जांच का आदेश दिया. प्रदेश की अखिलेश सरकार खनन की सी.बी.आई.जांच काे रूकवाने सुप्रीम काेर्ट गई ताे स्वराज अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रशांत भूषण की पैरवी पर ही सुप्रीम काेर्ट खनन की सी.बी.आई. जांच करवा रहा है.

एक मीडियाकर्मी की दुखभरी कहनी...

आर्थिक संकट से जूझ रहे मीडियाकर्मी अमित नूतन की पत्नी कविता का निधन हो गया...
पूरी स्टोरी यहां पढ़ें..

13.2.17

ज़ी न्यूज़ की एंकर निहारिका माहेश्वरी की जी न्यूज़ से विदाई

ज़ी न्यूज़ की एंकर निहारिका माहेश्वरी की जी न्यूज़ से विदाई. निहारिका यूपी केंद्रित रीजनल न्यूज चैनल ''इंडिया 24x7'' देखती थी. चैनल हेड बाशिंद्र मिश्र और पूरे चैनल के स्टाफ ने निहारिका को विदाई पार्टी दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की.



एकता और अखंण्डता के लिए घातक है ऐसी नारेबाजी

आज सम्पूर्ण भारतवर्ष ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक एवं संवैधानिक दृष्टि से एक है। हमारा संविधान ‘हम भारत के लोग ....... ......’ से शुरू होकर हमारी एकता को रेखांकित करता है। संवैधानिक स्तर पर भारत का कोई भी नागरिक अपने मूल निवास स्थान के अतिरिक्त अन्य क्षेत्रों में भी चुनाव लड़ने के लिए अधिकृत है। यह हमारी एकता का भी प्रमाण है। इसी आधार पर आज गुजराती मूल के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी उ.प्र. के वाराणसी संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं। आश्चर्य का विषय है कि देश की ताजा राजनीति देश के अंदर ही देश के नेताओं को बाहरी बता रही है। उ.प्र. विधान सभा के चुनावों में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का नारा ‘अपने लड़के बनाम बाहरी मोदी’ इस दुर्भाग्यपूर्ण और राष्ट्रीय एकता के लिए घातक क्षेत्रीय मानसिकता को उजागर करता है।

पत्रकारों को नहीं है मतदान का अधिकार!

बड़ी अजब स्थिति है. लोगों को वोट के लिए प्रेरित करने वाले मीडिया कर्मी स्वयं का वोट नहीं डाल पाते। क्या हमारे लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था नहीं होनी चाहिए? क्या हमको मतदान करने का अधिकार नहीं है? इसके लिए चुनाव आयोग के साथ ही नेताओं को भी ध्यान देना होगा।
Anuj Gupta 
anujgupta.kanpur06@gmail.com
(पत्रकार अनुज गुप्ता एक निजी चैनल में कार्यरत हैं )

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय यानि National School of Drama के भ्रष्टाचार की कहानी उजागर किया अजित राय ने

पूरा आलेख पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें

क्यों तन्हा हो गए हैं प्राइमरी स्कूल....

शालिनी तिवारी की रिपोर्ट पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें

विश्व रेडियो दिवस 13 फरवरी

रेडियो की कहानी पढ़ने के लिए इस पर क्लिक करें


11.2.17

भारत की ज्ञान परंपरा पर केंद्रित है विश्वविद्यालय का कैलेंडर

संबंधित खबर

सामाजिक जड़ता के विरुद्ध हिन्दी रंगमंच की बड़ी भूमिका


संबंधित खबर

अनिल यादव की नई किताब 'सोनम गुप्ता बेवफा नहीं है'

संबंधित खबर


युवा कवियों के कविता शिविर का आयोजन

संबंधित खबर...