Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

26.1.17

लगता है ब्लंडर करना पत्रिका वालों के DNA में है...

पत्रिका अखबार इन दिनों खबरों से ज्यादा गलतियों का पुलिंदा बनते जा रहा है। और गलतियां भी ऐसी जो अख़बार की साख गिराने काफी है। इनके पत्रकारों की हरकतें देखकर लगता है यह पत्रकार बने कैसे? कौन सी किताब पढ़कर डिग्री ले ली इन्होंने? लगता है ब्लंडर करना इनके पत्रकारों के DNA में है। वैसे भी इनके रिपोर्टर फिल्ड से ज्यादा समय इंटरनेट पर ख़बरे ढूंढने में बिताते हैं। इसलिये काबिलियत इक्का दुक्का में ही है। बाकी सब ढ़ाक के तीन पात हैं।


इनको न कुछ क्रॉस चेक करना है न अच्छे से पढ़ना है। जो मिला अंटा बंटा छापते चलो। वैसे भी इनके एडिशन फ्री के डिब्बे, बाल्टी से ही बिक रहे हैं। यहां हम आपको पत्रिका के विभिन्न संस्करणों में हुई ऐसी ही ब्लंडर्स के बारे में बता रहे हैं। देखिये और खुद अंदाजा लगाइये कि यह अखबार कैसे पत्रकारों के हाथों से निकल रहा है।



केस1- छत्तीसगढ़ सरकार के विज्ञापन में मौजूदा PM नरेंद्र मोदी को पूर्व PM लिखकर CM रमन सिंह को फोटो सहित वर्तमान PM छापा है।

केस2- फोटो में दिख रही युवती के हाथ में तिरंगा उल्टा है। अब इसी से इनकी भी देशभक्ति की पोल खुलती है। जो बिना ध्यान दिए कुछ भी छापते हैं।

केस3- IIM जैसे रेपोटेटेड संस्था के कार्यक्रम में आये गेस्ट का इंट्रो ही गलत छाप दिया। जिसके बाद IIM द्वारा इनसे माफ़ी मांगने की बात कही गई।

Ashish Chouksey 
ashishchouksey0019@gmail.com

No comments: