Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

27.7.11

यमुना में कुछ नहीं हुआ है , इसमें केवल भ्रष्टाचार का कालिया नाग आ गया है . जिसे स्वयं कृष्ण ही जीत सकते हैं.


जमुना साफ़ है : कृपया उसे गन्दा न करो , उसमें गंदे नाले न डालो

          

जमुना जी  कि सफाई की बार बार बातें होती हैं.

मैं दिल्ली में रहता हूं , अभी आज ही जमुना जी पर से जाने का अवसर मिला .

निचे देखा , धवल जमुना जी बह रही हैं.

ये तो एक बारिश में ही साफ़ हो गयी ,  फिर आप जमुना जी की सफाई के लिए ५०० करोड़ , १००० करोड़ कैसे खर्च होंगे.

अरे मेरे भाई , मेरी इंडिया देट इज भारत की महान सरकार ! केवल इसमें कारखानों के गंदे रसायन न डालो , फिर ये तो साफ़ ही हैं .

कार्खानओ से रिश्वत लेकर गंदे नाले इसमें न डालो .  नालों के कैमिकल को साफ़ कर के इसमें डालो , और हम हिंदुओं की आस्था को बचा रहेने दो , प्लीज .

             

बोलो यमुना महारानी की जय , कालिया दमन की जय 

3 comments:

शालिनी कौशिक said...

sahi kaha aapne

I and god said...

जाट देवता (संदीप पवाँर) said...
हर साल बारिश में खुद साफ़ हो जाती है, फ़िर भी पैसा खाने के चक्कर में नेता बहाने बनाते रहते है,

July 27, 2011 5:40 PM


I and god said...
संदीप भाई ,

बात तो आप अक्ल की करते हैं फिर नाम जाट क्यों रखा है.

{माफ करना केवल दोस्ताना मजाक है)

July 27, 2011 7:56 PM

I and god said...

dhanyawaad shalini jee