Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

9.2.12

इस शीर्षक को तुरंत बदल दे!


इस शीर्षक को तुरंत बदल दे!




अशोक जी ,




 आपसे प्रार्थना  है कि इस शीर्षक को तुरंत बदल दे .यह शीर्षक 


 ''भारत  माता ''की गरिमा को तो चोट पहुंचा ही रहा है साथ 


भारत ke करोड़ों  देश- प्रेमियों  को भी आहत कर रहा है जो माता 


की आन पर प्राण देने के लिए हर पल तैयार हैं .






''जो भारत माता का रेप कर रहे हैं, उन से बुरा काम तो इन बेचारों ने नहीं 

किया ''

                                                                    शिखा कौशिक 
                                                               [bhartiy nari ]

5 comments:

I and god said...
This comment has been removed by the author.
I and god said...

माननीय शिखा जी ,

में किसी कि भावना को आहत नहीं करना चाहता.

पर सोचिये , आपको शीर्षक ही आहात कर रहा है , और वो ये काम वास्तव में कर रहे हैं.

भारत जैसे देश में जहाँ २५ करोड़ लोगों के पास पिने का पानी नहीं वहां लाख करोड़ खा कर भी मस्त फोटो खिंचा रहे हैं ,

एक अकेला डा स्वामी लगा है , जिसकी जान के पीछे सारी सरकार के गुंडे पड़े हैं .

क्या शीर्षक बदलने से वास्तु स्थिति बदल जायेगी.

और आपको बुरा लगा, पर अधिकतर जनता को एसी ख़बरों से कोई सरोकार नहीं ,

में आपसे क्षमा प्रार्थी हूँ ,

कोई ऐसा शीर्षक सुझा दें जिससे इस तथ्य को कहा जा सके ,

में आपका अति आभारी रहूँगा

अशोक गुप्ता

Brijesh Bhatt said...

Ms. Shikha,
Mr. Ashok will change the title but Ms. Shikha the meaning of Indian politics can't be changed with this just think that which politicians are doing like this who'll change them who'll tell them that whatever they are doing that's not comes under Indian democracy it is not in Indian constitution.

Sorry if i am wrong but it is truth that there is no effect on the Indian politicians this kind of facts.

Brijesh Bhatt

Brijesh Bhatt said...

Ms. Shikha,
Mr. Ashok will change the title but Ms. Shikha the meaning of Indian politics can't be changed with this just think that which politicians are doing like this who'll change them who'll tell them that whatever they are doing that's not comes under Indian democracy it is not in Indian constitution.

Sorry if i am wrong but it is truth that there is no effect on the Indian politicians this kind of facts.

Brijesh Bhatt

I and god said...

धन्यवाद ब्रिजेश जी ,

में आपको निजी तोर पर धन्यवाद / वार्ता करना चाहता था , मगर आपका कोई लिंक उपलब्ध नहीं है . चलो भड़ास को भी धन्यवाद अवं शिखा जी को भी धन्यवाद.