Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

23.10.10

ahasaas

अहसास......................
दूर होकर भी कोई ,
दिल के बहुत पास होता हे।
भुलाना चाहते हुए भी नहीं भूलता जो,
वो कोई अपना खास होता है .
ख्यालो में भी उसका
ही अहसास होता है ,

फिर क्यों वो मुझसे दूर होता है.
उभर आता है उनका ही अक्श मुस्कराता हुआ,
जब भी ये दिल उदास होता है।
संगीता मोदी "शमा"



2 comments:

नारदमुनि said...

जब जब
जिस जिस को
रखना चाहा
अपने
दिल के पास,
तब तब
अकेला रहा
छोड़ गया
वह साथ।

Manish Singh "गमेदिल" said...

उभर आता है उनका ही अक्श मुस्कराता हुआ,
जब भी ये दिल उदास होता है।
शमा जी बहुत खूब लिखा है आपने......
http://manishgumedil.jagranjunction.com