Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

24.12.07

पैसे वसूल

वेलकम वेलकम वेलकम...
शनिवार को फिल्म वेलकम देखी। फिल्म देखने से पहले कई तरह की परिस्थितियां सामने आई, लेकिन हम कहाँ मनाने वाले थे। चल निकले फिल्म देखने तो चाहे आसमान ज़मीं पर क्यों न उतर जाये हम तो फिल्म देखकर ही दम लेंगे। फिल्म देखने का प्लान कई दिनों से बन रहा था, पर किसी न किसी कारण प्लान फ्लाप हो जाता था। आखिर में शनिवार को सभी साथियों को १२ बजे भास्कर ऑफिस के सामने मिलाने को कहा गया। मैं, सचिन लुधियानवी, दिनेश भाई, सुशील व अनूप ठीक १२ बजे ऑफिस के सामने मिले। सभी लोग ओरियेंत सिनेमा गए। वहाँ जाने पर मालूम हुआ कि hawusful है। अचानक सभी के चेहरे उतर गए। तक किसी साथी ने कहा कि चलो पीवीआर चलते हैं। जिस टेंपो को वहाँ छोडें थे, उसी पर लद्द लिए। इसके बाद टेंपो वाले को टिप देकर पीवीआर सिनेमा के सामने उतर गए। पीवीआर में टिकट तो मिल गया पर सभी के टिकट में ही १५० ठुक गए। हालांकि फिल्म देखने के बाद सभी ने कहा कि पैसे वसूल।
नो-एंट्री के बाद दूसरा प्रयोग भी सफल
प्रियदर्शन और डेविड सरीखी कामेडी वेलकम को अनीस बज़मी ने अच्छा ट्रीटमेंट दिया है। नो-एंट्री के बाद ये उनकी कामेडी का दूसरा प्रयोग है, जो सफल साबित होगा। दूसरी कामेडी फिल्मों कि तरह वेलकम को देखने के लिए आपको दिमाग घर पर छोड़ कर जाना होगा। दूसरी रोमांटिक फिल्मों के उलट इसमें शादी से निकलती है कामेडी। फिल्म के असली हीरो नाना पाटेकर और अनिल कपूर ने कामेडी में बेहतरीन रोल निभाया है, जो दर्सकों को हंसी से लोटपोट करने पर मजबूर कर देती है। कैटरिना हाट लगी हैं, तो मल्लिका भी सेक्सी लग रही हैं। अक्षय एक बार फिर कामेडी करते हुए अच्छे लगे हैं। लंबे अरसे के बाद फिरोज खान भी जमे हैं। वेलकम पूरी तरह रिलेक्स होकर ऎन्जॉय करने का मौका देगी।
भाई दिनेश को नाना, सचिन को परेश रावल, सुशील को अक्षय, अनूप को कैटरिना तो मुझे अनिल कपूर कि एक्टिंग खूब पसंद आई।

2 comments:

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' said...

mere kyaal aapase mil rahen is maamale men
badhaai

laddoo lal said...

achchhaaaaaaaa,,,phir se dekhiye..aur phir se paise vasooliye...ha ha ha ha