Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

25.4.08

मिल गया ऑफ़ लाइन हिन्दी टाइपिंग का टूल

आज हिन्दी आफ लाइन टाइपिग के लिये एक टूल मिल ही गया.धन्यावद उन्मुक्त जी!
अब बिना आन लाइन हुए अपने विचार लिख कर उन्हे जब चाहे एक पोस्ट अप्ने ब्लोग पर डाल सकते है.
कैफेहिन्दी एक ऐसा ही टूल है, इसे आप www.cafehindi.com पर जाकर डाउनलोड कर सकते है.
एक बार फिर से उन्मुक्त जी का धन्यावाद!

5 comments:

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

तो फिर अब देर किस बात की है चालू हो जाइये दे दनादन लिखना....

Ankit Mathur said...
This comment has been removed by the author.
Ankit Mathur said...

सन्जू जी आप बाराह नाम के टूल को
भी डाउनलोड कर के अपने पी सी या लैप टाप से
आफ़लाईन लिख कर बाद में ब्लाग पर चिपका सकते हैं। ये एक काफ़ी आसान और कारगर साफ़्टवेयर है, ज़्यादातर ब्लागर इसका इस्तेमाल
करते हैं। इसकी खासियत ये है कि ये ना सिर्फ़ देवनागरी बल्कि अन्य भारतीय भाषाओं में भी
लिख सकता है, जैसे पंजाबी, मराठी आदि.
इसमे लिखने के लिये आप नोटपैड पर कुछ भी लिखें और सेव ऐज़ में जा कर unicode फ़ारमैट
सेलेक्ट कर के सेव कर सकते हैं।
ये है उस साफ़्टवेयर के डाउनलोडिंग का लिंक।
http://www.baraha.com/BarahaIME.htm
धन्यवाद
अंकित माथुर...

Anonymous said...

बस अब जोर शोर से हिन्दी में लिखना शुरू हो जाइये। हिन्दी को अंतरजाल में सबसे लोकप्रिय बनाना है।

Unknown said...

कमाल है,
मैं कंप्यूटर का गधा था जो अब तक कुछ पता नही था, मगर जय जय भडास, जय जय भडासी।
अब तो बस हिन्दी ही हिन्दी।
लगे रहो भडासी भाइयों।