Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

24.5.11

नेता जी का फेवरेट गेम -भ्रष्टाचार


नेता जी का फेवरेट गेम -भ्रष्टाचार 

खेलों में एक खेल है ;भ्रष्टाचार का खेल ,
न गारंटी जीत की ;दिग्गज होते फेल ,
बंधन वैसे कुछ नहीं ;खेलें मेल-फीमेल,
जो न खेलें ठीक से हो जाती है जेल ,
नेताओं का फेवरेट ;नित बनते कीर्तिमान ,
भारत के नेताओं ने सब कर लिए अपने नाम .
                                               शिखा कौशिक 

3 comments:

शालिनी कौशिक said...

netaon ke game ka kar diya maza kharab,
ab to harne ke hi aayenge unko khwab.
bahut sateek prastuti.badhai.

जाट देवता (संदीप पवाँर) said...

आप की बात से सहमत हूं
ये नेता जानबूझ कर जेल जाते है,

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

Sach....yahi hal hai..