Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

17.10.09

सभी ब्लॉगर बंधुओं को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें...!!
जलाओ दीप जलाओ...!


एकता का दीप जलाओ
समता का दीप जलाओ
ममता का दीप जलाओ.


प्रेम की बाती
सौहार्द का तेल 
मानवता का दीया बनाओ.

जलाओ........


मन से ईर्ष्या
जन से द्वेष 
तन से घृणा 
आपस से क्लेश मिटाओ.


जलाओ.....!!

2 comments:

vivek mishra said...

achhi kavita hai www.jungkalamki.blpogspot.com
vivek mishra

Unknown said...

dhanyvaad vivekji...