Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

26.10.09

फिरोजाबाद के पत्रकार पर मुकदमा दर्ज


पुलिस में की गई शिकायत को पढ़ने के लिए उपरोक्त तस्वीर पर क्लिक करें

1 comment:

Unknown said...

अब कहने को बचा ही क्या है. बस मुट्ठी बंद ही रहे तो अछा है वर्ना जो रही सही है वो भी कुछ लोगो की वजह से चली जायगी.