Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

16.7.08

पानी के लिए अभियंता, कर्मचारी और पार्साद को कुए में latkaya

ये

2 comments:

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

राकेश भाई,अभियंता और कर्मचारी को लटका कर गलत किया, हां पार्षद को लटकाए रखते तो शायद उसके मगरमच्छई आंसुओं से पानी की पर्याप्त सप्लाई मिल भी जाती.....

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) said...

Doctor saahabb,

sahi kaha, waisai mahanagron men is ki sabse jyada jaroorat hai, paani ki sarwadhik killat jo thahree :-P

jai jai bhadas