Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

20.7.08

कुछ काम करो


यशवन्तजी, आपका आभार,

दे दिया मुझे भी भड़ास का हथियार ।

लीक से हटकर लिखने का मौका मिलेगा,

जो सच्चे हैं उनका दिल खिलेगा ।

जो बहाव के खिलाफ न चल पायेंगे,

वे बिना नाम के विदा हो जायेंगे।

इसीलिए कहता हूँ कुछ काम करो,

कुछ काम करो, कुछ काम करो।

डाक्टर भानु प्रताप सिंह, आगरा

4 comments:

Shambhu Choudhary said...

" भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध "

जिस नारी जाति से सारी मनुष्य जाति चाहे वह नर हो या मादा का जन्म होता है, उस नारी जाति के भ्रूण को जन्म से पहले ही नष्ट कर देना मनुष्य के लिए एक घिनौना कार्य ही है। इस पत्र के लेखक की राय भी जाने शीर्षक " भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध " नीचे लिंक में दिया हुआ है। आप भी भाग लेवें इस बहस में। http://ehindisahitya.blogspot.com/

Shambhu Choudhary said...

" भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध "
जिस नारी जाति से सारी मनुष्य जाति चाहे वह नर हो या मादा का जन्म होता है, उस नारी जाति के भ्रूण को जन्म से पहले ही नष्ट कर देना मनुष्य के लिए एक घिनौना कार्य ही है। इस पत्र के लेखक की राय भी जाने शीर्षक " भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध " नीचे लिंक में दिया हुआ है। आप भी भाग लेवें इस बहस में।

यशवंत सिंह yashwant singh said...

भानु भइया....स्वागत है आपका.....आप जैसे लोगों के भड़ास से जुड़ने से हम सभी गौरवान्वित हैं। उम्मीद है आपका प्यार बना रहेगा.....
यशवंत

Unknown said...

सुस्वागतम भानु जी,

भडास की शोभा बढाने के लिये अब बस कुछ भडास भी, इन्तेजार है आपकी अभिवयक्ती का।

जय जय भडास