Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

30.12.11

नूतन वर्ष 2012 की हार्दिक शुभकामनाएं










छम  छम  छमकता आया  नया  साल  
खन खन  खनकता  आया  नया  साल  
नए   साल  में   हिंदुस्तान   में  
चेहरों  पर  खिल   जाये   मुस्कान  

जो   हैं  सपने  तेरे  अधूरे  
हो   जाए  नए साल में पूरे  
जुड़  जाये आशा  के  धागे 
सारी  मायूसी अब भागे  
चम् चम् चमकता आया नया साल
दम दम दमकता आया नया साल 
नए साल में ........


मिट जाएँ गम के अँधेरे
नित दिन  खुशियों के हो सवेरे 
पथ से हट जाये सब कांटे 
मंगलमय हो दिन और रातें 
खुशबू लुटाता आया नया साल 
मन हर्षाता आया नया साल 

                         नूतन  वर्ष  2012 की  हार्दिक  शुभकामनाएं  स्वीकार करें .
                                                                                                             शिखा कौशिक
                                                                                     [vikhyat ]

2 comments:

S.N SHUKLA said...

ख़ूबसूरत प्रस्तुति, बधाई.

नूतन वर्ष की मंगल कामनाओं के साथ मेरे ब्लॉग "meri kavitayen " पर आप सस्नेह/ सादर आमंत्रित हैं.

vandan gupta said...

बहुत खूबसूरत प्रस्तुति……………आगत विगत का फ़ेर छोडें
नव वर्ष का स्वागत कर लें
फिर पुराने ढर्रे पर ज़िन्दगी चल ले
चलो कुछ देर भरम मे जी लें

सबको कुछ दुआयें दे दें
सबकी कुछ दुआयें ले लें
2011 को विदाई दे दें
2012 का स्वागत कर लें

कुछ पल तो वर्तमान मे जी लें
कुछ रस्म अदायगी हम भी कर लें
एक शाम 2012 के नाम कर दें
आओ नववर्ष का स्वागत कर लें