Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

24.5.08

बिजनौर के कल्याण सिहं ने पुष्पा देवी के नाक, कान काट दिए

कुछ दिनो पहले टी.वी पर एक खबर देखी । बिजनौर के कल्याण सिहं ने पुष्पा देवी के नाक, कान काट दिए व दांत तोड़ दिए । जानते है क्यों ? क्युकी कल्याण सिहं ने पुष्पा देवी की जमीन हड़प ली थी और कानूनी लड़ाई लड़कर पुष्पा देवी ने अपनी जमीन वापस पा ली । इसी बात से बौखलाये कल्याण ने उसके नाक , कान काट लिए और दांत भी तोड़ दिए । यहाँ सवाल ये उठता है की कल्याण सिहं ने पुष्पा देवी के साथ ही इतनी निर्दयता क्यों दिखाई ? उसके परिवार के अन्य सदस्यों के साथ क्यों कुछ नही किया या कर सका ? शायद इसलिए की वह स्त्री है । जिसे समाज अबला , कमजोर समझता है और पुष्पा देवी तो वैसे भी गावं की है जो शायद उसका ज्यादा कुछ न बिगाड़ सके । कितनी अजीब बात है की चाहे परिवार के लोग हो या बाहर के , सब पहले औरत पर ही अत्त्याचार करते है । आखिर क्यों ? और क्या मिल पायेगा पुष्पा देवी को न्याय ?

3 comments:

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

कमला बहन,मेहरबानी करके टीवी द्वारा दिखाई खबर के आधार पर कुछ मत बोलिये। क्या आपने मेरी पिछली पोस्ट http://bhadas.blogspot.com/2008/05/blog-post_9267.html देखी नहीं या नारी बेचारी का ही जाप करने का इरादा बना रखा है। उस मुद्दे पर आपने एक शब्द तक नहीं लिखा। जरा और साहस जुटाइये...
जय जय भड़ास

Chiranjiv said...

कल पटना के हिन्दुस्तान मे एक समाचार था कि सेनारी मे पुलिस द्वारा महिलाओ पर अत्याचार. छान बीन के नाम पर रात मे पुलिस महिलाओं के साथ दुर्व्यव्हार करती है. आप ब्लोगर लोग ईसको भि उजागर किजिये.

रजनीश के झा said...

कमला जी,
टी वी को अगर आप सच्चाई का आइना मानती हैं तो ये सोचनीय है क्योँकी इन टी आर पी के चौबंदों ने खबर बनाने के लिए पत्रकारिता की, देश की, समाज की, माँ बहन एक कर रखी है.
वैसे अगर ये सच है तो सोचनीय है मगर सिर्फ इसलिए नहीं की ये महिला का मामला है अपितु देश, समाज और हमारा मामला है.
जय जय भडास