Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

28.10.08

बेचारा राहुल मारा गया.....

इसलिए मारा गया क्यूंकि उसने भरोसा किया की मुंबई पुलिस पर... मेरी बात ठाकरे से कराएगी?लेकिन जैसा आपने देखा होगा मुंबई पुलिस ठाकरे की किस तरह आव भगत में लगी रहती है...कार के पास ....आते....ही दरवाजा खोलने वाली मुंबई पुलिस ही तो होती है...लेकिन बेचारा राहुल ये सब नहीं जानता था......उसने ....तो किसी को नहीं मारा पर उसे ..मार.......डाला गया क्यूंकि उसके आलावा सब ...मराठी............थे वो कैसे छोड़ देते उसे?.....

3 comments:

ummed Singh Baid "saadahak " said...

राहुल में देखो छवि अपनी,
गोली निज सीने पर झेलो.
यह देश तङपता घायल है.
आतंक राज का अब देखो.

ummed Singh Baid "saadahak " said...

राहुल में देखो छवि अपनी,
गोली निज सीने पर झेलो.
यह देश तङपता घायल है.
आतंक राज का अब देखो.

ajit tripathi said...

raj ka raj khatm hone vala hai.
rahul jaise ladke hi use khatm karenge.